rpschool of lerning copy

G N M Course

  • Aims

    The basic Diploma course in General Nursing & Midwifery is geared to the health needs of the individual family, community and the country at large. The aims of the Diploma in General Nursing and Midwifery programme are:

    1. To prepare nurses with a sound educational programme in nursing to enable them to function as efficient members of health team, beginning with competencies for first level positions in all kinds of health care settings.

    2. To help nurses in their personal and professional development, so that they are able to make maximum contribution to the society as useful and productive individuals, citizens as well as efficient nurses.

    3. To prepare nurses to keep pace with latest professional and technological developments and use these for providing nursing care services.

    4. To help nurses develop an ability to co-operate and co-ordinate with members of the health and rehabilitation of sick.

    To serve as a base for further professional education and specialization in nursing.

    Objectives

    The nurse on completion of this course will be able to;

    · Demonstrate competency in providing health care to individual, sick or well, using the nursing process.

    · Provide effective nursing care for maintaining the best possible level of health in all aspects.

    · Plan and carry out the appropriate action to meet nursing needs.

    · Assess the nursing need of clients from birth to death.

    · Apply problem solving techniques in nursing practice.

    · Promote self care in people under their care.

    · Evaluate effectiveness of nursing care.

    · Assist in research activities.

    · Function effectively with members of the health team and community applying the knowledge of human relations and communication skills in her work.

    · Demonstrate basic skills in administration and leadership while working with other members of the health team and community.

    · Participate as a member of the health team in delivery or curative preventive, promotive and rehabilitative health care services.

    · Apply knowledge from the humanities, biological and behavioral sciences in functioning as a nurse.

    · Mobilize community resources and their involvement in working with the communities.

    Recognize the need for continuing education for professional development.

    Demonstrate use of ethical values in their personal and professional life.

    Demonstrate the interest in activities of professional organizations.

    Duration    :    Duration of the course shall be three years & six months including internship.
    Vacation    :    50 days vacation shall be given each year.

    Course Fees  : INR 3,50,000 per Year

more
lbscnursingcourse
B.Sc Nursing

  • bsc nursing एक undergraduation का कोर्स है. इस कोर्स के लिए आपको 4 साल का समय लगता है. bsc nursing में  आपको health sector से जुड़ी तमाम  कामों को सिखाया जाता है. इस कोर्स के पूरे 4 साल में आपको अस्पताल में मरीजों की देखभाल कैसे करनी है? इलाज करते वक्त डॉक्टरों की मदद करना, अस्पताल में मौजूद स्वास्थ्य उपकरणों की देखभाल करना तथा उनके उपयोग को भी सिखाया जाता है.

  • इस कोर्स में आपको दवाइयों के बारे में बताया जाता है 4 साल में आपको इंटर्नशिप भी करना होता है ताकि आपके पास अनुभव हो किसी भी अस्पताल में काम करने का और मरीजों की अच्छी से देखभाल करने का तभी जाकर आप की डिग्री पूरी होती है|

    इसमें इन्हें स्वतंत्र रूप से तथा किसी डॉक्टर के टीम में हिस्सा बनकर काम करने के सही तरीके सिखाए जाते हैं. दोस्तों कोई भी अस्पताल बिना नर्स के नहीं चल सकता है. दवाइयों की भी जानकारी नर्सों के लिए बहुत जरूरी होती है ताकि वह मरीजों को सही समय पर सही दवाई खिला सके. इसीलिए इस कोर्स में दवाइयों के बारे में भी बताया जाता है|

    बीएससी नर्सिंग की योगयता (Eligibility For BSc Nursing)

    दोस्तों जैसा कि हम जानते हैं कि bsc nursing  एक स्नातक का कोर्स है. इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए किसी भी विद्यार्थी को  किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं की परीक्षा physics, chemistry and biology विषय से कम से कम 50% अंकों के साथ पास करनी होती है तभी जाकर आपको किसी भी कॉलेज में दाखिला मिलता है|

    बीएससी नर्सिंग कैसे करे (How to Do BSc Nursing in Hindi)

    बीएससी नर्सिंग एक बहुत ही लोकप्रिय कोर्स है जो कि आज बहुत सारी लड़कियां तथा लड़के कर रहे हैं. इस क्षेत्र में कैरियर बनाने से पहले हर छात्र के मन में यह सवाल होता है कि आखिरकार वह बीएससी नर्सिंग कोर्स कैसे करें?

    ·         दोस्तों बीएससी नर्सिंग कोर्स के लिए सबसे पहले आपको किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं की परीक्षा  physics, chemistry, biology subject के साथ बहुत अच्छे अंकों के साथ पास करनी होती है.

    ·         दोस्तों बीएससी नर्सिंग में दाखिला दो तरह से होता है पहला प्रवेश परीक्षा (Entrance Exam) के द्वारा दूसरा Merit के आधार पर होता है.

    दोस्तों हमारे देश में जितने भी सरकारी कॉलेज हैं उन कॉलेज में दाखिला लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा देनी होती है और बहुत सारे प्राइवेट कॉलेजेस में भी इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए प्रवेश परीक्षा देनी होती है|

    कुछ कॉलेज इसमें आपका दाखिला आपके 12वीं के अंक के आधार पर ही हो जाता है इसीलिए आपको 12th में अच्छे मार्क्स लाने होते है ताकि आप किसी अच्छे कॉलेज में दाखिला ले सकें.

more